मध्यप्रदेश में 31 जनवरी तक स्कूल बंद, क्राइसिस मैनेजमेंट बैठक में फैसला हुआ

Listen to this article

जनपथ टुडे, भोपाल, 14 जनवरी 2022, मध्यप्रदेश में क्राइसिस मैनेजमेंट कमेटी की बैठक में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि स्कूलों को 31 जनवरी तक के लिए बंद किया जा रहा है। पहली से 12वीं कक्षा तक के स्कूलों को 15 जनवरी से बंद करने का फैसला हुआ है। इसके अलावा कुछ और सख्त फैसले लिए गए हैं। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मुख्यमंत्री निवास से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से जिला, विकासखंड, ग्राम स्तर की क्राइसिस मैनेजमेंट कमेटियों के साथ बैठक की इसमें केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया सहित राज्य सरकार के मंत्री, विधायकों और अन्य जनप्रतिनिधि, गणमान्य नागरिक शामिल हुए।

उन्होंने वैक्सीनेशन को लेकर कई जिलों को अपनी नाराजगी दिखाई। कई जिलों ने वैक्सीनेशन को लेकर आंकड़ों को गलत बताने का प्रयास किया तो सीएम चौहान ने कहा कि भारत सरकार के आंकड़ों को चुनौती नहीं दी जा सकती है।

सीएम ने कहा आर्थिक गतिविधियां नहीं रोकी जा रही

शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि यह कोशिश की जा रही है कि आर्थिक गतिविधियां ना रुके और लोगों के कामकाज होते रहे। इनके बंद होने से गरीब, रोज कमाने वाले लोग परेशान होते हैं। मगर कोबिट शिष्टाचार का पालन किया जाए। क्राइसिस मैनेजमेंट कमेटियों को यह जिम्मेदारी सौंपी है कि वह कोरोना जांच, कॉन्ट्रैक्ट ट्रेसिंग, दवाओं की व्यवस्था बनाकर रखें और उसी से तीसरी लहर से प्रदेश की जनता को बचा कर ले जाया जा सकता है। भीड़ भाड़ एकत्रित नहीं हो यह भी कमेटियों की जिम्मेदारी रहेगी।

यह प्रमुख फैसले हुए

-15 जनवरी से 31 जनवरी तक स्कूल बंद रहेंगे। सरकारी और प्राइवेट स्कूल इस अवधि में बंद रहेंगे।

-सभी प्रकार के मेले वाणिज्यिक या धार्मिक कोई नहीं लगेंगे।

-जुलूस रैली या राजनीतिक, सामाजिक सभा भी प्रतिबंधित रहेगी।

-हाल में क्षमता से 50% लोगों की मौजूदगी के साथ कार्यक्रम हो सकेंगे।

-शादी या अन्य आयोजन हॉल या खुले में 250 तक की संख्या अनुमति से होगे।

-खेल गतिविधया 50% खिलाड़ी के साथ होगी।

-खेल गतिविधियों बिना दर्शकों के होगी।

-प्री बोर्ड की परीक्षाएं 20 जनवरी से होना थी लेकिन उनके स्वरूप में भी बदलाव किया जाएगा।


Related Articles

Close
Website Design By Mytesta.com +91 8809 666000