जल जीवन मिशन अंतर्गत घर-घर तक पेयजल पहुंचाया जाए: कलेक्टर

Listen to this article

कलेक्टर ने समय-सीमा की बैठक में की विभागीय कार्याें की समीक्षा

जनपथ टुडे, डिंडौरी, 18 अक्टूबर 2021, जिला कलेक्टर रत्नाकर झा ने सोमवार को कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में आयोजित समय-सीमा की बैठक में जल जीवन मिशन, विद्युत विभाग, सीएम हेल्पलाईन, रोजगार मेले, खरीफ उपार्जन हेतु किसानों का पंजीयन, भू-अभिलखों का सत्यापन, उद्यानिकी, एक जिला एक उत्पाद सहित अन्य विभागीय कार्याें की समीक्षा कर आवश्यक दिशा निर्देश दिए। इस अवसर पर अपर कलेक्टर डिंडौरी, मुख्यकार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत, एसडीएम डिंडौरी, एसडीएम शहपुरा, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी, जिला कार्यक्रम अधिकारी महिला एवं बाल विकास विभाग, कार्यपालन यंत्री पीएचई, कार्यपालन यंत्री पीडब्ल्यूडी, कार्यपालन यंत्री आरईएस, एसडीओ वन विभाग, उप संचालक पशु चिकित्सा सेवाएं सहित विभागीय अधिकारी कर्मचारी मौजूद थे।

जिला कलेक्टर ने कहा कि जल जीवन मिशन के अंतर्गत ग्रामीण क्षेत्रों में घर-घर तक पेजयल पहुंचाया जाए। पेयजल के लिए सभी जल संसाधनों का उपयोग करें। उन्होंने कहा कि जिले में लोगों को किसी भी प्रकार से पेयजल समस्याओं का सामना न करना पड़े। पेजयल समस्याग्रस्त क्षेत्रों को जल जीवन मिशन से जोड़ा जाए। कलेक्टर झा ने इसके बाद विद्युत विभाग के कार्यों की समीक्षा की। उन्होंने खराब ट्रांसफार्मरों को बदलने के निर्देश दिए। जिससे विद्युत उपभोक्ताओं को नियमित रूप से विद्युत आपूर्ति की जा सके। उन्होंने विद्युत समस्याओं से संबंधित शिकायतों का भी निपटारा करने के निर्देश दिए।

जिला कलेक्टर ने इसके बाद सीएम हेल्पलाईन के प्रकरणों की भी समीक्षा की। उन्होंने कहा कि सीएम हेल्पलाईन के प्रकरणों का निराकरण संतुष्टिपूर्वक दर्ज किया जाए। शिकायतकर्ताओं से लगातार संपर्क कर शिकायतों का निराकरण किया जाए। सीएम हेल्पलाईन के प्रकरणों का निपटारा लेवल-1 एवं लेवल-2 पर ही करना सुनिष्चित करें।
कलेक्टर ने सभी अधिकारियों को जनहित एवं शासन हित में नवाचार करने के निर्देश दिए। जिससे लोगों को शासन की योजनाओं का लाभ आसानी से मिले और योजनाओं के बारे में जानकारी हो सके।

उन्होंने राजस्व विभाग के अधिकारियों को राजस्व पुस्तक परिपत्र 6-4 के प्रकरणों का निपटारा शीघ्र ही करने के निर्देश दिए। जिससे पीडित परिवार को सहायता राशि समय में प्राप्त हो सके। कलेक्टर श्री झा ने इसके बाद रोजगार मेला आयोजन की समीक्षा की। उन्होंने कहा कि जिले के बेरोजगार युवक एवं युवतियों के लिए रोजगार उपलब्ध कराने के लिए प्रतिमाह रोजगार मेले का आयोजन किया जाए। उन्होंने रोजगार मेले का व्यापक रूप से प्रचार-प्रसार करने के निर्देश दिए।

कलेक्टर ने जिले के सभी पुल-पुलियों के दोनो तरफ नदियों के नाम लिखे बोर्ड लगाने के निर्देश दिए। जिससे पुल को पार करने वाले राहगीरों को नदियों के नाम का पता चल सके। उन्होंने इस कार्य को प्राथमिकता के साथ पूरा करने के निर्देश दिए। इसके बाद खरीफ उपार्जन हेतु किसानों के पंजीयन, पशु चिकित्सा सेवाएं विभाग तथा भू-अभिलेखों का सत्यापन और उद्यानिकी विभाग के कार्याें की समीक्षा की।


Related Articles

Close
Website Design By Mytesta.com +91 8809 666000